ऑनलाइन पर्ची सुविधा होगी अब इस अस्पताल में

Online slip facility will now be available in this hospital

हिमाचल प्रदेश का क्षेत्रीय अस्पताल कुल्लू ऑनलाइन पर्ची प्रणाली शुरू करने वाला राज्य का पहला हॉस्पिटल  बन गया है। जिले में मंगलवार से यह सेवा शुरू हो जाएगी। मरीजों या उनके रिश्तेदारों को पर्ची के लिए क्षेत्रीय अस्पताल की वेबसाइट www.kulluhospital.com पर पंजीकरण कराना होगा। यह वेबसाइट स्वास्थ्य विभाग ने ही बनाई है जो मोबाइल फोन पर आसानी से खुल जाएगी। मोबाइल फोन पर रजिस्ट्रेशन नंबर आएगा, जिसे मरीजों को अस्पताल आते समय ऑनलाइन ओपीडी काउंटर पर दिखाना होगा। ऑनलाइन पर्ची काउंटर पर सुबह आठ बजे से पहले मरीजों की पर्ची काट ली जाएगी, जिसके बाद वे अस्पताल पहुंचते ही ओपीडी में जा सकेंगे।

स्वास्थ्य विभाग के इस अभियान का फायदा यह होगा कि अब आपको पर्ची बनवाने के लिए लंबी कतारों में नहीं लगना पड़ेगा.
उपायुक्त आशुतोष गर्ग ने बताया कि स्वास्थ्य विभाग ने जिले के मरीजों के लिए ऑनलाइन प्रिस्क्रिप्शन सर्विस वेबसाइट बनाई है. अब मरीज अपने घरों से वेबसाइट पर अपना पंजीकरण करा सकते हैं और अपनी पर्ची बना सकते हैं। उल्लेखनीय है कि क्षेत्रीय अस्पताल कुल्लू में ओपीडी रोजाना 500 से 600 के बीच है। मरीजों को घंटों लाइन में खड़ा होना पड़ा।

पोर्टल पर जानकारी देनी  होगा- आपको  किस दिन अस्पताल आना  है |

यह सब पोर्टल पर लिखना होगा कि किस दिन मरीजों को इलाज के लिए अस्पताल आना है। इसमें नाम, उम्र और पता समेत अन्य जानकारियां देनी होंगी। इस पोर्टल पर सभी विकल्प पहले ही दिए जा चुके हैं। रजिस्ट्रेशन के समय आपको यह विकल्प मिलेगा कि आपको किस डॉक्टर को कब देखना है।

19 1

 

ये भी आप पढ़ सकते है — निचे दिए गया लिंक पर क्लिक कर आप पढ़ सकते है |

 

HPPSC Important Notification 2021 आज है अंतिम तिथि 

(आपको हमारी जानकारी अच्छी लगती है और आपने अभी तक हमारे ग्रुप्स को ज्वाइन नहीं किया तो अभी ज्वाइन कर ले और अपने दोस्तों को भी हमारे साथ ज्वाइन करवा दे   हमारे सोशल प्रोफाइल के लिंक्स पोस्ट के निचे दिए है  हम आगे भी आपको ऐसी प्रकार की  महवपूर्ण जानकारी आपको  प्रदान करने का प्रयास रखेंगे | धन्यवाद  (success pana chahte hai .com)

Telegram Group Join Now
Facebook Group Available & JOIN NOW
Instagram Click Here
YouTube Channel  Click Here
Whatsapp Group Join Now

Author: SPCH