किन्नौर जिले का इतिहास || किन्नौर जिला इतिहास

History Of Kinnaur District || Kinnaur District History

किन्नौर जिले का इतिहास || किन्नौर जिला इतिहास

  • Kinnaur has been a part of the ancient principality Bushahr.( किन्नौर प्राचीन रियासत बुशहर का हिस्सा रहा है।)
  • हिन्दूधर्म  ग्रन्थ में किन्नर लोगो को “अश्वमुखी” कहा गया है।
  • तिब्बती लोग Kinnaur को “खुनू” कहते है।
  • पांडवों ने 12 वर्षों का बनवास किन्नौर में बिताया।
  • Kinnaur प्राचीन काल(ancient time) में  Bhushar का हिस्सा रहा है। इसलिए किन्नौर अर्थात Bhushar Riyast की  स्थापना बनारस के चन्द्रबंशी राजा “प्रधुम्न” ने की।
  •  राजा “प्रधुम्न” ने कामरू में राजधानी स्थापित कर Bhushar Riyast की नीव रखी।
  •  सातवीं से दसवीं सदी के बीच तिब्बत के गुग्गे सम्राज्य के प्रभाब में आकर Kinnaur में बोद्ध धर्म और भोटिया भाषा का प्रभाव पड़ा था।
  • राजा चतर सिंह Bhushar Riyast के 110वें  राजा थे। राजा चतर सिंह ने अपनी राजधानी कामरू से सराहन स्थानांतरित(Moved) की थी।
  • राजा चतर सिंह  के पुत्र “केहरी सिंह” Bhushar Riyast के सबसे शक्तिशाली राजा थे।
  • केहरी सिंह को “अजानबाहू” भी कहा जाता था।
  • राजा “केहरी सिंह” को मुग़ल बादशाह औरंगजेब ने “छत्रपति” की उपाधि दी थी।

हमारे YouTube चैनल में  ऑडियो सुनने  के लिए यंहा क्लीक करे

आधुनिक भारत :

  • Bhushar Riyast के “राजा राम सिंह” (1767-1799 ई.) ने “RAMPUR” शहर की स्थापना की और उन्होंने अपनी राजधानी सराहन से रामपुर बदली।
  • राजा “पद्म सिंह” को 1914 ई. में अंग्रेजों ने Bhushar Riyast का राजा माना।
  • राजा “पद्म सिंह” Bhushar Riyast के अंतिम राजा थे। वह आजादी तक रामपुर bhushar के राजा बने रहे।
  • 1948 ई. में  Bhushar Riyast हिमाचल प्रदेश का हिस्सा बन गया था।
  • हिमाचल प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री “राजा वीरभद्र सिंह” राजा “पद्म सिंह” जी के पुत्र है।
  • “राजा वीरभद्र सिंह” Bhushar Riyast के 131वीं पीढ़ी से सबंध रखते है
  •  Kinnaur District 1960 से पहले महासू जिले की चीनी तहसील के रूप में जानी जाती थी।
  • 21 अप्रैल,1960 को चीनी तहसील महासू जिले से अलग हो गयी।
  • 21 अप्रैल,1960 को किन्नौर हिमाचल प्रदेश का 6वां राज्य बना। 

NOTE:

  • क्षेत्रफल (Area) के हिसाब से Kinnaur हिमाचल प्रदेश का तीसरा सबसे बड़ा जिला है।
  • किन्नौर अंगूर उत्पाद में हिमाचल प्रदेश में पहले स्थान पर आता है।
  • Kinnaur District में तीन प्रमुख जलविधुत परियोजनाए है

1) Sanjay Hydroelectric Project /Bhabha Project (संजय जलविद्युत परियोजना            (भाभा परियोजना) – 120 मेगावाट

2) Nathpa Jhkadi hydroelectric project / (नाथपा झाकड़ी जलविद्युत                             परियोजना) – 1500 मेगावाट

3) Vaspa hydroelectric project  (वस्पा जल विधुत परियोजना) – 300 मेगावाट

  • नाको और सोरंग झील Kinnaur की प्रमुख जिले है।
  • नाको झील Kinnaur के “हांगरांग” तहसील से स्थित है और सोरंग झील Kinnaur के “निचार” तहसील में है।
  • Kinnaur हिमाचल प्रदेश के पूर्व में स्थित है
  • KINNAUR 3155’ 50’’ से 3205’15’’ उतरी अक्षांश (Northern latitude) और 77045 से 7900435’’ पूर्वी देशांतर(East longitude) के बीच स्थित है।
  • · भाभा किन्नौर का सबसे बड़ा गाँव है और ये भाभा घाटी में स्थित है।
  • बस्पा घाटी KINNAUR जिले में है और इसको सांगला घाटी के नाम से भी जाना जाता है। यह किन्नौर की सबसे सुन्दर घाटी है।

Hpssc hamirpur question paper TGT ARTS SAMPLE PAPER post code 699

HP police constable Exam Quiz || HP Police Bharti 2019

History

EDUCATION POLICEY 2019|मानव संसाधन विकास मंत्रालय नई राष्ट्रीय शैक्षिक नीति: 19 बदलावों की सिफारिश करता है

HPPSC SAMPLE PAPER Clerk Screening test held on 28-04-2019

HPPSC SAMPLE PAPER Clerk Screening test held on 28-04-2019

जल समाधि लेने वाले टाइटेनिक ने शुरू की पहली यात्रा

aju2057

Author: Rana